Signal क्या हैं? [Analog and Digital Signal in Hindi]

Signal क्या हैं? [Types of Signal in Hindi]

Signal क्या हैं?

Signal एक electron magnetic from में होता है, जिसका उपयोग हमारे
द्वारा किसी data को एक जगह से दूसरे जगह transmit करने के लिए किया जाता
है। इसमें Signal का सबसे सरल रूप DC अर्थात Direct Current होता है यह Switch
on/off की तरह ही होता है। और Telegraph machine भी इसी सिद्धांत पर कार्य
करता है। साथ ही Signal का दूसरा रूप होता है AC अर्थात Alternating
Current, जो अधिक जटिल signal transmission के लिए होता है। इसमें किसी
भी डाटा को transmission के लिये इसे code करके signal में transfer
किया जाता है साथ ही साथ किसी उपयुक्त कम्युनिकेशन मीडिया का उपयोग
कर एक जगह से दूसरे जगह पर स्थानांतरित किया जाता है। इस प्रकार के
ट्रांसमिशन में, data को signal में परिवर्तित करके भेजा जाता है। 


Signal in Hindi:

Signal के बारे में एक बार फिर से जान लेते है कि सिग्नल एक electro
magnatic या lite wave होता है। इसकी सहायता से हम कोई भी data को किसी एक डिवाइस
से दूसरे डिवाइस को भेज सकते है यह कम्युनिकेशन चैनल से संभव होता है।

इसे हम एक उदाहरण से समझने के लिए एक स्मार्टफोन लेते है जिसकी सहायता से किसी से
बात करते है तब स्मार्टफोन हमारे द्वारा बोला गया ध्वनि को इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल
में बदल देता है। यह इलेक्ट्रॉनिक Signal  फ्रीक्वन्सी और  bandwidth
के साथ हमारे आस पास लगे सेल फोन टावर के पास में पहुच जाता हैै और फिर टावर मे
लगे ऐन्टेना उस signal को ट्रांसमिट कर  Switching Center  मे उस मिलाई
गए number से कॉल जोड़ देता है।

Signal के प्रकार: 

Signal निम्न दो प्रकार के होते हैं:

  1. Analog Signal
  2. Digital Signal

Analog Signal क्या हैं? 

Analog का अर्थात लगातार चलने वाला डाटा या सिग्नल से होता है। यह एक
प्रकार का ऐसा signal है, जिसकी value time के respect होने के
बाद change होते रहते हैं और इसकी value दिये गये range के अंदर होता है।
मनुष्य की आवाज, वीडियो, म्यूजिक इत्यादि Analog Signal के उदाहरण
हैं।

निम्न चित्र के माध्यम से Analog Signal Transmission को समझा
जा सकता हैं:

Analog Signal क्या हैं?

इस प्रकार के signal का उपयोग करके किसी data को हमारे द्वारा हजारों
कि.मी. तक transmit करने के लिए किया जाता है। इस प्रकार के Signal के Frequency
को Hertz या cycle per second में मापा जा सकता है।

Advantage of Analog Signal:

  1. इस प्रकार के signal का एक मुख्य लाभ यह है कि इसमें data को define करने
    की कोई सीमा नहीं होती।
  2. Analog Signal के लिए lesser bandwidth capacity की आवश्यकता होती है। 
  3. इस signal की प्रोसेसिंग आसान होती है।
  4. Digital Signal की तुलना में इसका घनत्व (Density) अधिक होता है।
  5. यह सिग्नल Continuous चलता है।
  6. हमारे द्वारा निकली आवाज निरंतर चलने वाले लहर की तरह होती है और Analog,
    Real World  से संबंधित होती हैं।

Disadvantage of Analog Signal:

  1. इस Analog Signal की एक मुख्य कमी यह होती है कि इसमें आवाज होती है।
  2. यदि हम बहुत दूर से डाटा ट्रांसमिट कर रहे हैं तब अनावश्यक
    disturbance होता है।

Digital Signal क्या हैं?

यह एक प्रकार से न्यूमेरिक सिग्नल से बिल्कुल भिन्न होता है क्योंकि इसमें
numeric विधि का उपयोग होता है। सामान्यतः इसमें किसी discrete value
(निरंतर मान) का उपयोग किया जाता है जिसका मान एक सीमा के अंदर होती है।
सामान्यतः डिजिटल सिग्नल इसे 0 और 1 के द्वारा represent किया जाता है।
निम्न चित्र में digital signal transmission को समझ सकते हैं:

Digital Signal क्या हैं?

यह Computer तकनीक में बहुत ही विश्वनीय होता है इसलिए इसका उपयोग data के
स्थानांतरण में भी किया जाता है। डिजिटल सिग्नल में एनालॉग सिग्नल की
तुलना में अधिक bandwidth क्षमता की आवश्यकता होती है। लगभग सभी प्रकार
के पर्सनल कंप्यूटर के द्वारा Digital का प्रयोग किया जाता है।
यह वास्तव में signal के उतार-चढ़ाव से बचने में उपयोग होता है क्योंकि analog
signal में यह विशेषता का उपयोग नही होती।

इस प्रकार के signal को transfer करने हेतु wire/cable का उपयोग में लाया
जाता है एवं इस signal को कुछ km के अंदर तक ही transmit किया जा सकता है।

Advantage of Digital Siganl:

  1. चूंकि यह डिजिटली स्थानांतरित किया जाता है इसलिए यह तेज गति से
    कार्य करता है।
  2. एनालॉग की तुलना में अधिक data स्थानांतरित करने की सुविधा देता है।

Disadvantage of Digital Signal:

  1. डिजिटल सिग्नल में बहुत अधिक bandwidth की अनावश्यक होती है।
  2. System एवं इसकी Processing अधिक जटिल होती है।

Difference between Analog and Digital Signal:

तुलना का स्तर Analog Digital
तकनीक
(Technology)
लहर (Wave) का प्रयोग करता है। यह लहर (Wave) को अंको एवं आकड़ो के रूप में बदलकर प्रयोग करता है।
उपयोग (Uses) सभी प्रकार के platform और operating system जैसे: Windows, Linux, Unix,
Mac OS इत्यादि
इलेक्ट्रॉनिक्स एवं कंप्यूटिंग दोनो में किया जा सकरा है।
संकेत (Signal) यह लगातार चलने वाला सिग्नल है जो भौतिक परिवर्तन करने के लिए सूचनाओं को
transmits करता है।
Digital मॉडुलेशन द्वारा उत्पन्न संकेत अनिरंतर समय तक बदलते रहते हैं।
आकड़ा संचरण (Data Tranmission) High quality डाटा ट्रांसमिशन नही कर सकता। High quality डाटा ट्रांसमिशन करता है।
परिणाम (Result) शुद्ध परिणाम प्राप्त नही होता। शुद्ध परिणाम देता है।
प्रतिनिधित्व (Representation) जानकारियों को प्रस्तुत करने के लिए निरंतर सीमा के मान का प्रयोग करता है। जानकारियों को प्रस्तुत करने के लिए अनियमित एवं अलग-अलग मान ले प्रयोग
करता है।
प्रक्रिया (Process) प्रक्रिया के लिए OP AMP का प्रयोग करता है जो इलेक्ट्रिक सर्किट में
प्रयोग करता है।
Microprocessor का प्रयोग करता है जो logic सर्किट का प्रयोग करता है।
उदाहरण (Example) हवा में मनुष्य की आवाज़ इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस

हमने क्या-क्या सीखा:

Signal क्या हैं?
Signal के प्रकार: Analog Signal and Digital
Analog Signal क्या हैं? 
Digital Signal क्या हैं?
Difference between Analog and Digital Signal:
Advantage of Analog Signal:
Disadvantage of Analog Signal:
Advantage of Digital Signal:
Disadvantage of  Digital Signal:

हमारे द्वारा दी गई जानकारी Signal क्या है? यह आपको बहुत ही सरल
शब्दों में जानकारी उपलब्ध कराई गई है यह पोस्ट आपके लिए हिंदी भाषा मे लिखा
गया है और सरलता से समझाया गया हैं। हमारे द्वारा दिया गया यह जानकारी आपको
कैसी लगी कमेंट कर जरूर बताए और दोस्तो के साथ शेयर जरूर करें।

Leave a Comment