Clipping क्या है? [Types of Clipping in Hindi]

Clipping क्या है? [Types of Clipping in Hindi]

Clipping क्या है?

जब किसी window के बाहर के भाग को हटाना होता है। तो clipping का प्रयोग करते हैं। Computer में किसी object के किसी खास भाग को ही रखना चाहते हैं और बचे हुए भाग को ही रखना चाहते है और बचे हुए भाग को remove करके object को नये रूप में प्राप्त करना चाहते तो  का प्रयोग करते हैं। 

इसमें हम निर्धारित भाग को छोड़कर केवल window के अंदर स्थित भाग को ही रख सकते है। Clipping के विषय में कह सकते है कि यह एक प्रक्रिया है जिससे किसी object के निर्धारित क्षेत्र को ही कार्य के लिए रख सकते है। इसे निम्न चित्र से समझ सकते हैं:

Clipping क्या है

Clipping algorithm निम्न दो तरीके से apply किया जा सकता है: 

(1) World coordinate clipping: 

Window के अन्तर्गत स्थित तत्व में से किसी भाग को device coordinate के अनुसार clipping करना। 

(2) Viewport clipping: 

View-port boundaries के अनुसार device coordinate अनुसार नापकर clipping करना। 

Types of Clipping-in Hindi

Clipping निम्न प्रकार के होते है:

  • Point Clipping 
  • Line Clipping
  • Polygon Clipping 

Point Clipping: 

जब rectangle position में clipping किया जाता है तो उसमें कुछ point range से बाहर हो जाते हैं जिन्हें point clipping कहते हैं इसे निम्न चित्र से सकते हैं: 
Point Clipping in hindi

उपरोक्त दूसरे चित्र में point pl, p2, p5 एवं p7 clipped हो जायेगा क्योंकि वे क्षेत्र से बाहर है इसे निम्न formula के आधार पर भी पता लगा सकते हैं। कोई भी point clipped नहीं होगा यदि वह XWmin से बडा या बराबर है और  XWmax से छोय बराबर है साथ ही YWmin से बडा और बराबर और YWmax से छोटा एवं बराबर होना चाहिए । इसे निम्न प्रकार लिख सकते हैं:

XWmin < = XWmax  & & YWmin YWmax 

और यदि इस range में नहीं आता तो वह clipped हो जायेगा।

Line Clipping: 

Line दो point से बनता है और जब rectangle position में clipping किया जाता है तो line का कोई भाग clipping window के बाहर या अंदर हो सकता है। इसे निम्न चित्र से समझ सकते है:

Line Clipping in hindi

यहाँ तीन स्थिति हो सकती है या तो पूरा line clipping window के अंदर है या बाहर हो या बीच में जब अंदर होता है तो line को कोई भाग clipped नहीं होता जैसे line P3-P4 यदि बाहर होता है तो पूरा line clipped हो जाता है line P5-P6 और बीच में होने की स्थिति में line का कुछ भाग clipped होता है जैसे line P1-P2 और line P7-P8। इसे उपरोक्त दोनों चित्रों के बीच के अंतर से समझ सकते है। Line clipping के लिए उसके दोनों endpoint की जाँच की जाती है जैसेः 

  • यदि उसके दोनों अंतिम point clipping window के अंदर है तो उसे उसी प्रकार रखा जाता है।
  • यदि उसके दोनों अंतिम point clipping window के बाहर है तो पूरे line को हटा दिया जाता है।
  • यदि उसका एक अंतिम point अंदर है और दूसरा बाहर तो यह जॉच किया जाता है कि कितना भाग अंदर है और कितना बाहर। जिस स्थान से वह clipping window से कटा होता है उसे ‘ Z ‘ मानते हैं और निम्न प्रकार formula लगाते हैं Line P1, P2 के लिए लागु करते हैं। जिसमें P1 को (x1, y1) मानते हैं और P2 को (x2, y2) मानते हैं: 

x= xl+z(x2-x1) और y=yl+z(y2-y1) 

Polygon Clipping:

Polygon एवं line clipping में एक ही प्रकार के नियम लागु होते हैं क्योंकि polygon , line के समूह से बनता है। नीचे दिये चित्र में polygon एवं उसके clipping के पश्चात् वह किस प्रकार दिखेगा इसे दर्शाया गया है। जब आप किसी polygon पर clipping apply करते हैं तो clipping के पश्चात् उपरोक्त के अनुसार उसका एक ही टुकड़ा एक ही polygon हो यह आवश्यक नहीं होता। 

उपरोक्त में second में clipping के पश्चात् दो polygon shape में object प्राप्त होते हैं। इस प्रकार के clipping में एक समस्या होती है। इससे जो नया polygon प्राप्त होता है उसका कौन सा भाग अंदर है और कौन सा बाहर यह निर्धारित करना कठिन होता है। इसलिए polygon को एक से अधिक टुकड़ों में काटने के बाद भी एक ही टुकड़ा प्राप्त होता है तो उसमें filling का algorithm apply करना आसान होता है। 

Clipping क्या है? [Types of Clipping in Hindi]

1 thought on “Clipping क्या है? [Types of Clipping in Hindi]”

Leave a Comment